Insights into simplifying train travel

यात्रा में सफलता के टोटकें- आस्था और विश्वास या महज़ बातें!

क्या कभी आप के साथ भी ऐसा हुआ है कि जब आप घर से किसी लम्बे सफर के लिए निकलने लगे हो तब आपकी मां, पत्नी या बहन आदि ने आपको मीठी दही खिलाकर आपकी यात्रा के सफल होने के लिए कामना की हो, या फिर किसी अन्य प्रकार का कोई और टोटका आदि किया हो। ताकि आपकी यात्रा सुरक्षित हो और आप अपने लक्ष्य को पाने में सफल रहें। दरअसल भारत ही नहीं बल्कि दुनिया भर में लोग अपनी सुरक्षित एवं सफल यात्रा के लिए कई प्रकार के अजीब-गरीब टोटके अपनाते है। भारत में जहां दही चीनी वाला टोटके से हर कोई वाकिफ है वहीँ देश के अलग-अलग प्रांत में ऐसे कई टोटके है जिनके बारे में शायद आपने कभी सुना भी न हो, पढि़ए ऐसे ही कुछ देसी टोटकों के बारे में-

उड़ीसा

Successful travel tip of odisha people

यहाँ के निवासी जब परिवार या किसी मित्र दल के साथ लम्बे सफर पर जाते है तब जाने वाला हर व्यक्ति अपने पास से एक या दो रूपये निकालकर एक रूमाल में जमा करते है। जाने से पहले इक्टठे हुए सभी रूपयों की पोटली बांधकर घर के पूजा स्थल में इस कामना के साथ रख दी जाती है कि जब तक ये पोटली यहाँ सुरक्षित रहेगी तब तक सारे यात्री भी अपनी यात्रा में सुरक्षित-सफल रहेंगे। वापस लौटने पर पोटली के सारे रूपयों को किसी धार्मिक स्थल या भिखारी को दान में दे दिया जाता है।

तमिलनाडु

tips for successful travel for tamilnadu people

दक्षिण भारतीय के तमिलनाडु में जब लोग किसी सफर, लम्बी यात्रा पर जाते है तो अपनी जेब में नीम के कुछ पत्ते रखकर ले जाते है। उनका ऐसा मानना है कि ऐसा करने से उनकी यात्रा में कोर्इ बाधा नहीं आती और यात्रा मंगलमय होती है।

हरियाणा

tips for successful travel for haryana people

उत्तर भारतीय राज्य हरियाणा में यात्रा पर जाने वाले यात्री की गाड़ी में किसी रिश्तेदार द्वारा घर से लाया गया जल गाड़ी के पहिये पर डालकर यात्रा के मंगलमय होने की कामना की जाती है।

बंगाल

tips for successful travel for bangal people

यहाँ के निवासी जब किसी लम्बी यात्रा पर जाने लगते है तो घर की किसी बुर्जुग महिला द्वारा जाने वाले सदस्य का दही से फोटा, “तिलक” कर उसे यात्रा में सफल होने का आर्शीवाद दिया जाता है।

तेलंगाना

tips for successful travel for telengana people

आंध्रप्रदेश से कुछ ही वक़्त पहले अलग हुआ तेलंगाना राज्य के बारे में कहा जाता है कि यहाँ के निवासी अपनी यात्रा के पहले एक लाला कपड़े में एक सिक्का बांध लेते है और फिर उसे ताबीज जैसे बनाकर अपनी दाएं बाजू में पहन लेते है ये ताबीज वो यात्रा पर निकलने से पहले पहनते है एवं अपनी यात्रा की समाप्ति पर उस ताबीज को किसी उस रास्ते पर निकालकर रख देते है जहां तीन रास्ते मिल रहे हों।

बिहार

tips for successful travel for bihar people

बिहार में भी कुछ स्थानों पर लम्बी यात्रा पर जाते समय यात्री को घर की किसी वृद्ध महिला द्वारा दूर्वा घास एवं अक्षत ,चावल के कुछ दाने आर्शीवाद के रूप में दिए जाते है तथा उसकी मंगलमय यात्रा की कामना की जाती है।

उत्तराखंड

tips for successful travel for uttrakhand people

उत्तराखंड के कुछ इलाकों में जब कोई किसी लम्बी यात्रा के लिए निकलने वाला होता है तब घर की कोई महिला विशेषकर माँ-दादी उसे कुछ हरे पत्ते विशेषकर फल या साग-सब्जी के पत्ते साथ ले जाने के लिए देती है। ऐसा माना जाता है कि उन पत्तों की सकारात्मक उर्जा यात्रा भर उनके लिए शुभ फल देने वाली सिद्ध होती है।

उत्तरप्रदेश

tips for successful travel for uttar pradesh people

उत्तरप्रदेश के कई इलाकों में जहां यात्रा से पहले जहां यात्रा करने वाले यात्री को अपने साथ ले जाने के लिए जहां अक्षत, तुलसी के पत्ते, रक्षासूत्र एवं अड़हुल का फूल आदि साथ लेकर जाने के लिए दिया जाता है ताकि उनकी यात्रा सफल अवं सुरक्षित हो। वहीँ यदि कोई परिवार छोटे बच्चों संग यात्रा करने वाला होता है तो वो अपने साथ लहसुन अवं माचिस की डिब्बी भी लेकर जाता है। ऐसा यात्रा में बच्चों को नकारात्मक प्रभावों से बचाने के लिए किया जाता है। वहीँ पश्चिमी उत्तर प्रदेश के लोग अपनी यात्रा से पहले गुड़ का सेवन अवश्य करते है। हालाँकि पश्चिमी उत्तर प्रदेश में गन्ने की खेती एवं गुड़ बनाने के कारखानों से भी इसे जोड़कर देखा जाता है।

आंध्रप्रदेश-

tips for successful travel for andhra pradesh people

आंध्रप्रदेश के निवासी अपनी यात्रा में अपने साथ एक साबूत निम्बु, एक कोयले का टुकड़ा एवं एक पूजा वाली कोडी लेकर यात्रा करते है। कहा जाता है कि ये चीजें उन्हें यात्रा में आने वाली बाधाओं एवं आकस्मिक दुर्घटनाओं से बचाती है।

आस्था, परंपरा एवं विश्वास की इन बातों पर इंटरनेट, फेसबुक एवं ट्विटर के आधुनिक युग में आज की पीढ़ी की कितनी आस्था है यह कह पाना तो मुश्किल है। लेकिन आज भी आपको ऐसे कर्इ लोग मिल जाएंगे जिनका इन बातों पर अटूट विश्वास है।

और पढ़ें

श्राद्धकर्म विशेष                                                                                                   जन्माष्टमी विशेष 


5 thoughts on “यात्रा में सफलता के टोटकें- आस्था और विश्वास या महज़ बातें!

  1. Vishal Chadda

    Humko sabhi bujurgo ka tahe dil se adar karna chahiye Jo hamai mangalmay yaatra k liye purane riti riwajon ko jinda rakhe hue

    Comment

Leave a Comment

Required fields are marked *